Top 5 Technology Trends of 2021 in Hindi

top tech trends in 2021

2021 के बारे में अनुमान लगाना थोड़ा सा अजीब लगता है जबकि हमें यह भी नहीं पता कि 2020 के आने वाले महीनों में हमें क्या करना है। कोई नहीं जानता था कि 2020 में हमें कोरोना जैसी महामारी से लड़ना पड़ेगा। एक बात तो तय है की टेक्नोलॉजी ने हमारे हर हिस्से को प्रभावित किया है।

वर्तमान समय में जो ट्रेंडिंग टेक्नोलॉजी हैं वह हमारे सामने आने वाली चुनौतियों का सामना करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगी और समय के साथ चलने में हमारी सहायता करेंगी।

शिफ्ट में काम करने से लेकर work-from-home तक और सार्वजनिक स्थानों पर लोगों से मिलना और बातचीत करना। इन सभी कामों में आज के टेक्नोलॉजी ट्रेंड्स हमारी बहुत सहायता करेंगे। वास्तविकता में कोविड-19 ने ऐसे बहुत सारे परिवर्तनों में एक उत्प्रेरक का काम किया है जो पहले से ही धीमी गति से चल रहे थे।

अब चीजें पहले से भी ज्यादा तेज गति से होंगी इन सभी में हमारी बदलती हुई ऑनलाइन और डिजिटल जिंदगी का बहुत बड़ा योगदान है।

कोरोना तो हमारी जिंदगी से चला जाएगा पर उसके द्वारा जो बदलाव आए हैं वह नहीं जाएंगे क्योंकि अब हमने चीजों को और अच्छे और सुरक्षित ढंग से करना सीख लिया है।

यहां मैं आपको कुछ प्रमुख टेक्नोलॉजी ट्रेंड्स के बारे में बताने वाला हूं जिनकी अगले वर्ष भी बहुत अधिक ट्रेंड में रहने की संभावना है। इनमें से कुछ ट्रेंड हमें कोविड-19 के बाद सामान्य स्थिति में आने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे तथा अन्य ट्रेंड हमारी बदली हुई जीवन शैली को बेहतर तरीके से समझने और काम करने में हमारी सहायता करेंगे।

  1. Artificial Intelligence (AI)

AI आज के समय में सबसे महत्वपूर्ण टेक्नोलॉजी ट्रेंड में से एक है। 2021 के दौरान यह हमारे आसपास की दुनिया को समझने के लिए एक अच्छी साबित होगी। हम स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाने और संक्रमण दर को रोकने के लिए जो भी उपाय कर रहे हैं वह सफल हो रहे हैं। इसका मतलब है कि मशीन लर्निंग एल्गोरिथम बेहतर तरीके से चीजों को समझ रहा है। जिससे हमें भविष्य में नई संभावनाएं देखने को मिलेगी

कंप्यूटर विजन सिस्टम (computer vision system) की सहायता से हम सार्वजनिक क्षेत्रों की निगरानी कर सकते हैं और कांटेक्ट ट्रेसिंग (contact tracing) के माध्यम से संपर्क में आए लोगों का सेल्फ लर्निंग एल्गोरिथम के द्वारा डाटा कलेक्ट किया जा सकता है। जो कि सामान्य रूप से इंसानों के द्वारा इतनी अच्छी तरीके से नहीं हो पाता। AI हमें यह पता लगाने में मदद करता है कि अस्पताल और अन्य हेल्थ केयर प्रोवाइडर को किस सर्विस की जरूरत है। और एडमिनिस्ट्रेटर को यह बताता है, कि कब और कहां, कौन से सामान को पहुंचाना होगा।

व्यवसाय में कस्टमर बिहेवियर (customer behavior) के बदलते पैटर्न को समझना एक बड़ी चुनौती होगी। ज्यादा से ज्यादा काम ऑनलाइन होंगे। शॉपिंग, ऑफिस वर्क, मीटिंग और रिक्रूटमेंट भी ऑनलाइन ही होंगे।

2021 में हम ऐसी टेक्नोलॉजी को यूज करेंगे जो इन सब कार्यों के बदलते पैटर्न को बेहतर तरीके से समझने में हमारी मदद करेंगे जिससे कि हमारी बुनियादी जरूरतें पूरी हो सकें।

 

  1. Vehicle Automation, Robotics and Drones.

सार्वजनिक परिवहन में यात्रियों की संख्या स्थानीय परिस्थितियों के हिसाब से बदलती रहती है। स्वचालित वाहन आ जाने से सार्वजनिक परिवहन में यातायात की क्षमता बढ़ेगी। जिससे समय की बचत होगी यात्रियों को फायदा होगा तथा लेबर कॉस्ट भी घटेगा जिससे सर्विस प्रोवाइडर्स को भी फायदा होगा।

पिछले कुछ समय से रोबोट का उपयोग हेल्थ केयर और सर्विस दोनों ही क्षेत्रों में देखा जा रहा है। और आने वाले समय में रोबोट का इस्तेमाल ऐसी जगह पर होगा जहां पर आम लोगों का संक्रमण का खतरा ज्यादा होगा। तथा जहां मानव क्षमता से अधिक कार्यक्षमता की जरूरत होगी।

रोबोटिक्स के माध्यम से जनसंचार की नई संभावनाएं देखने को मिलेगी। इसके साथ-साथ 24 * 7 घर के कामों में, सर्विस सेक्टर में, हेल्थ केयर सेक्टर में, सिक्योरिटी और क्लीनिंग सर्विसेज में भी इनका तेजी से इस्तेमाल होगा।

ड्रोन का इस्तेमाल सुरक्षा और दवाइयां पहुंचाने में होगा कंप्यूटर विजन एल्गोरिथम (Computer vision algorithm) वाले ड्रोन का इस्तेमाल ऐसे क्षेत्रों का पता लगाने में होगा जहां पर संक्रमण ज्यादा है

 

  1. As-a-service Revolution

यह क्लाउड बेस्ड सर्विसेज (Cloud based services) का ऐसा ऑन डिमांड प्लेटफार्म है। जिनकी हमें अपनी जीवन को और बेहतर बनाने तथा अन्य काम करने में आवश्यकता होती है, जैसे कि PaaS, SaaS तथा IaaS .

इसकी सहायता से वह सभी टेक्नोलॉजी ट्रेंड जिनकी हम आज बात करते हैं उन सभी तक हम पहुंच पाए हैं।

इसी कारण अब AI  और रोबोट का उपयोग किसी भी बिजनेस और ऑर्गेनाइजेशन के लिए संभव होगा, चाहे उनका बजट या  साइज कुछ भी हो। Google, Amazon, Microsoft  और कुछ अन्य स्टार्टअप क्लाउड की सर्विस प्रदान करते हैं।

 

विश्व भर में कोविड-19 (COVID-19) महामारी का बहुत बुरा असर हुआ है। जो भी कंपनियां क्लाउड की सर्विस देतीं थी उन्होंने बहुत सारी ऐसी As-a-Service सर्विस दी और वह सफल भी रहीं। उदाहरण के लिए जूम (Zoom) को ही ले लेते हैं जो कोविड-19 के दौरान बहुत ज्यादा प्रचलित हो गया है।

इसकी हाई स्पीड के कारण यह आसानी से सर्वर को जोड़ सकता है, और अच्छी कवरेज के साथ हाई क्वालिटी की सर्विस प्रोवाइड करता है। यह सब इसकी क्लाउड बेस्ड सर्विसेज (Cloud Based Service) और अच्छे सर्विस प्रोवाइडर के कारण संभव हुआ है। 2021 और इसके बाद भी यह हमारे लिए और महत्वपूर्ण होता जाएगा होता जाएगा और लोगों के लिए नई संभावनाएं उत्पन्न होगी।

 

  1. 5G and Enhanced Connectivity

तेज और अच्छे इंटरनेट का मतलब सिर्फ यह नहीं कि वेबपेजेस जल्दी से खुल जाएं और यूट्यूब के वीडियो भी तेजी से चलें। 3G, 4G और 5G से मोबाइल कनेक्टिविटी की नई संभावनाएं उत्पन्न हुई हैं। 3G  ने वेब ब्राउजिंग और डाटा से चलने वाली मोबाइल की सेवाओं को और अधिक उपयोगी बना दिया। 4G आने से से ऑनलाइन वीडियो देखना और म्यूजिक सुनना आसान हो गया। क्योंकि बैंडविथ बढ़ बढ़ गई थी। और 5G आने के बाद और अधिक संभावनाएं खुल जाएंगी।

5G का मतलब है आधुनिक तकनीक पर बेस्‍ड सर्विसेज जैसे कि ऑगमेंटेड रियलिटी (AR) और वर्चुअल रियलिटी (VR) और साथ ही क्लाउड बेस्ड गेमिंग प्लेटफॉर्म जैसे गूगल स्टेडिया (Google Stadia) और एनवीडीया जीफोर्स (NVidia GeForce) को कहीं भी और किसी भी समय उपयोग किया जा सकेगा। 5G आने के बाद केबल और फाइबर बेस्‍ड नेटवर्क (Fiber Based Network) का उपयोग में कमी आ जाएगी।

5G  और अन्य हाई स्पीड नेटवर्क आने के बाद जो भी ट्रेंड की हम यहां बात कर रहे हैं, वह कहीं भी और किसी भी समय हमारे लिए उपलब्ध होंगे।

इसका एक अच्छा उदाहरण है, Norwegian fishery operator, Salmar जो 5G नेटवर्क का उपयोग अपनी मछलियों की देखरेख और भोजन को स्वचालित रूप से करने के लिए करते है। इमेज रिकॉग्निशन एल्गोरिदम (Image Recognition Algorithm) का उपयोग यह पता लगाने के लिए किया जाता है कि कौन सी मछलियां अधिक या कम भोजन कर रही हैं।  और उन्हें स्वस्थ रखने के लिए स्वचालित रूप से भोजन और दवा दी जाती है।

2021 में हमें इस तरह के और और और भी उदाहरण देखने को मिल सकते हैं जहां बिजनेस और ऑर्गेनाइजेशन अपनी कार्यक्षमता अपनी कार्यक्षमता मैं ऑटोमेशन को बढ़ाने के लिए 5G का उपयोग करेंगे।

 

  1. Extended Reality (XR) Virtual Reality(VR), Augmented Reality(AR)

ये शब्द ऐसी टेक्नोलॉजी को कवर करते हैं, जो कंप्यूटर-जनरेटेड इमेजरी (Computer generated Imagery) को सीधे यूज़र के विज़न क्षेत्र में प्रोजेक्ट करने के लिए चश्मे या हेडसेट का उपयोग करती है। जब वास्तविक दुनिया में यूज़र क्या देख रहा है,  इसका अनुभव किया जाता है, तो यह ए.आर. (AR) कहलाता है। और जब इसका उपयोग यूजर को पूरी तरह से कंप्यूटर से उत्पन्न वातावरण का अनुभव करवाने के लिए किया जाता है, तो यह वी.आर. (VR)  कहलाता है।

AR और VR तथा अन्य टेक्नोलॉजी ट्रेंड्स जिनकी हमने यहां पर बात की है। इन सभी का उपयोग वर्तमान समय में कोरोना की वजह से उत्पन्न चुनौतियों से निपटने में हो सकता है।

मुख्य रूप से इसमें ऐसी खतरनाक परिस्थितियों शामिल है जहां पर संक्रमण का खतरा बहुत अधिक रहता है। उदाहरण के लिए चिकित्सकीय जांच और परीक्षण दूर से ही किए जा सकेंगे।

किसी रोगी के आंखों का परीक्षण VR के माध्यम से बहुत आसानी से हो सकेगा। क्योंकि हाई डेफिनेशन वाले कैमरे (High Definition Camera) रोगी की आंखों की एक क्लियर इमेज देते हैं। AR की सहायता से कोई भी व्यक्ति घर बैठे अपनी पसंद के चश्मे को चुन सकता है। और यह देख सकता है कि वह उसके चेहरे पर कैसा दिखेगा। (Lenskart.com)

भविष्य में शिक्षा के क्षेत्र में भी AR और VR का उपयोग देखने को मिलेगा अधिक भीड़-भाड़ वाली कक्षाओं को इसके माध्यम से मॉनिटर किया जा सकेगा। AR का उपयोग ट्रेफिक सिगनल्स और इंडस्ट्रीज में भी होगा।

संक्रमण या महामारी के समय AR टूल्स का का उपयोग लोगों को उन जगहों पर जाने पर अलर्ट करने में किया जाएगा जहां पर ट्रांसमिशन ज्यादा है। यहां तक कि जब हम किसी सार्वजनिक स्थान पर जाते हैं और कुछ छूते हैं तो हमें हाथ धोने के लिए अलर्ट करना, तथा हाथ धोने का समय बताना। ये सब भी जीवन को बचाने और बीमारी को फैलने से रोक सकते हैं।

1 thought on “Top 5 Technology Trends of 2021 in Hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *